January 21, 2009

टाइम पास, केहि बकबास

धेरै दिन पछि फेरि यताउताबाट टिपेका जोकहरु जस्ताको तस्तै यस पोष्टमा राखेको छु ।

डियर सन्ताजीका करामतहरु

इन्जिनियर सन्ता

संता जी एंजीनियरिंग का इंटरव्यू देने पहुंचे।
इंटरव्युअर ने पूछा : इलेक्ट्रिक मोटर कैसे काम करती है ?
संता : धुरररर....धुरररर....धुररररर...
इंटरव्युअर : क्या कर रहे हो ? रुक जाओ !
संता : धुरररर...धुप..धुप..धुप।

साइन्टिस्ट सन्ता
अमेरिका में नासा का रॉकिट फेल हो गया। सब लोगों ने बहुत कोशिश की , पर रॉकिट नहीं उड़ा। आखिरकार भारत के साइंटिस्ट संता बोले : रॉकिट को थोड़ा झुकाओ अब हिलाओ। हां , अब उड़ा दो। कमाल हो गया , रॉकिट उड़ गया।

सारे लोग बोले : अरे संता जी , यह कौन सा फॉर्म्युला है ?
संता : फॉर्म्युला , वॉर्म्युला कुछ नहीं, हमारे इन्डिया मे स्कूटर ऐसे ही स्टार्ट होता है।

"सरिफ" सन्ता
संता : घर का सारा कीमती सामान छुपा के रख दो , मेरे दोस्त आ रहे हैं।
संता की बीवी : क्यों , आपके दोस्त चुरा लेंगे ?
संता : नहीं , पहचान लेंगे।

संता "द फ्लर्ट"
संता अपनी गर्लफ्रेंड को किस करता है।
गर्लफ्रेंड : शादी से पहले यह सब नहीं।
संता : अरे चिंता मत करो मैं शादीशुदा हूं।

जवान पुत्र
बापः तुम इस बार भी फेल हो गए। सामने सोनिया को देखो, उसने टॉप किया है , कुछ तो शर्म करो।
बेटा : पापा , सारा टाइम उसे ही तो देखता रहा , तभी तो फेल हो गया।


6 Comments:

Postak_Shrestha said...

पाण्डाजीको दह्रो गयो ल। तपाईको अतीतको कथाहरु आउने भन्नु भा'थ्यो, कहाँसम्म पुग्यो हजुर?

Panda said...

आउंछ प्रभु, आउंछ । एउटा सानो असाइन्टमेन्ट जस्तो छ, त्यसले अलि ट्याम खाछ, त्यो पन्छाउँने वित्तिकै शुरु हुन्छ धमाका !

ठरकी दादा said...

Total Timepass, सबै जोक रमाईलो रहेछ, सबैभन्दा रमाईलो लागेको चाहि तेस्रो ।

असाइन्टमेन्टको लागी अग्रिम शुभकामना!

Panda said...

Thanks Tharkiji.

MANOJ ARYAL said...

HAHAHA good yar

प्रबिण थापा said...

good one! HA HA HAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAAA

Post a Comment

>>> कमेन्टको लागि धन्यवाद !